ब्लड प्रेशर और हार्ट ब्लॉकेज की परेशानी है तो आज से ही खाना शुरू कर दें ये चीजें तेजी से होगा फायदा

0
1874

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में ब्लड प्रेशर के मरीजों की तादाद दिन ब दिन बढ़ती जा रही है। हमारे खान पान का इसमें अहम किरदार है, फॉस्ट फूड और अनियमित दिनचर्या की वजह से आजकल सभी उम्र के लोगों में हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी देखने को मिल रही है। देखने में तो ब्लड प्रेशर की बीमारी मामूली सी लगती है, लेकिन अगर वक्त रहते इस पर काबू न पाया जाए तो यह समस्या दिल की बीमारी, स्ट्रोक और किडनी की बीमारी का कारण भी बन सकती है। ब्लड प्रेशर कम हो जाना या ब्लड प्रेशर का बढ़ जाना दोनों ही ख़तरनाक होते हैं। इसलिए डॉक्टर ब्लड प्रेशर के मरीजों को अक्सर यह सलाह देते है की आप नियमित रूप से ब्लड प्रेशर की जांच करवाते रहें।

यदि आप हाई ब्लड प्रेशर परेशानी से परेशान है और इस परेशानी के हल के बारे में सोच रहें है तो आपके लिए दो तरीके हैं, पहला तरीका तो रोज अंग्रेजी दवाएं खाकर राहत ले जिसका साइड इफ़ेक्ट होना भी तय है, और दूसरा तरीका घरेलू उपचार है जिसे अपना कर आप ब्लड प्रेशर को ठीक कर सकते हैं, साथ ही शरीर की कई और बीमारियों को भी ठीक कर सकते हैं और आप को कोई साइड इफ़ेक्ट भी नहीं होगा। तो आइए आज हम आप को इस पोस्ट में बतायेगे हाई ब्लड प्रेशर के घरेलू उपचार

हाई ब्लड प्रेशर को कम करने के घरेलू टिप्स

1.आंवला

आंवले में पोटेशियम जैसे तत्व होते हैं जो आपके हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करता है अगर आप इसका लगातार इस्तेमाल करते हैं तो आपको हार्ड और स्ट्रोक का खतरा कम होता है वैसे तो आंवला काफी बीमारियों में मदद करता है आंवला ब्लड प्रेशर के लिए भी बहुत राहत पहुंचाने वाला है। आंवला में विटामिन सी होता है। यह ब्लड सर्कुलेशन को ठीक करता है और कोलेस्ट्रॉल को भी कंट्रोल में रखता है। इसके अलावा आंवले में विटामिन सी आयरन और कई अन्य पोषक तत्व होते हैं जो एनीमिया यकम हीमोग्लोबिन जैसी कई समस्याओं में बेहद फायदेमंद साबित होता है यह हमारे शरीर में मौजूद जहरीले पदार्थ यानी बेड टॉक्सिंस को बाहर निकालने में मददगार होता है

आंवले का रस
एक बड़ा चम्मच आंवले का रस उतनी ही मात्रा में शहद मिलाकर सुबह-शाम लगातार इस्तेमाल करने से हाई ब्लड प्रेशर में राहत मिलती है

2. चोकर युक्त आटा

चोकर युक्त आटे का इस्तेमाल करने से अमाशय के घाव को भरने में मदद मिलती है, यह कोलेस्ट्रॉल को संतुलित करने के लिए भी फायदेमंद साबित होता है इसके अलावा अपेंडिसाइटिस और बवासीर जैसी बीमारी में भी चोकर वाला आटा फायदेमंद साबित होता है

गेहूं व चने के आटे को बराबर मात्रा में लेकर बनाई गई रोटी खूब चबा-चबाकर खाएं, आटे से चोकर न निकालें। यह ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में बहुत मददगार साबित होता है

3. ब्राउन राइस
ब्राउन राइस में भरपूर मात्रा में फाइबर होता है इसके अलावा मिनरल पोटेशियम और मैग्नीशियम का यह अच्छा सोर्स है एक स्टडी से पता चलता है कि पोटेशियम और मैग्नीशियम से भरपूर चीजों के इस्तेमाल से बॉडी से टाॅक्सिन बाहर निकल जाते हैं जिससे ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मदद मिलती है

ब्राउन चावल का इस्तेमाल करें। इसमें नमक, कोलेस्टरोल और चर्बी बहुत कम मात्रा में होती है। यह हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिये बहुत ही फायदेमंद साबित होता है

4. लहसुन
लहसुन के अंदर एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं जो ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल समेत कई दिक्कतों को दूर करने में बहुत ही फायदेमंद साबित होता है

लहसुन में एलिसीन होता है, जो नाइट्रिक ऑक्साइड के उत्पादन को बढ़ाता है और मांसपेशियों को आराम पहुंचाने का काम करता है। ब्लड प्रेशर के डायलोस्टिक और सिस्टोलिक सिस्टम में भी राहत देता है। यही वजह है कि ब्लड प्रेशर के मरीजों को रोजाना खाली पेट एक लहसुन की कली निगलनी चाहिए। लेकिन ध्यान रखें आप इसे ज्यादा मात्रा में इस्तेमाल ना करें
लहसुन ब्लड प्रेशर ठीक करने में बहुत मददगार घरेलू उपाय है। यह खून का थक्का नहीं जमने देता है। धमनी की कठोरता में फायदेमंद है। खून में कोलेस्ट्ररोल की मात्रा ज्यादा होना हाई ब्लड प्रेशर का एक प्रमुख कारण होता है खून का गाढ़ा होना उसका प्रवाह धीमा हो जाता है। इससे धमनियों और शिराओं में दवाब बढ जाता है।

5. मूली
लगातार मूली के जूस के सेवन से ब्लड प्रेशर के मरीजों को फायदा मिलता है या रक्त के प्रवाह को संतुलित बनाए रखता है साथ ही ब्लड प्यूरीफिकेशन का भी काम करता है इसे दोपहर में ही लेना फायदेमंद साबित होता है

वैसे तो मूली एक साधारण सब्जी है। पर इसे खाने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। इसे पकाकर या कच्चा खाने से बॉडी को मिनरल्स व सही मात्रा में पोटैशियम मिलता है। यह हाइ-सोडियम डाइट के कारण बढ़ने वाले ब्लड प्रेशर को ठीक करने का काम करता है

6. अलसी
अलसी के अंदर भरपूर मात्रा में ओमेगा 3 फैटी एसिड फाइबर इसके अलावा प्रोटीन होता है और यह एक बेहतरीन एंटीऑक्सीडेंट का भी काम करता है, इसी वजह से यह हाई ब्लड प्रेशर को ठीक करता है इसके अलावा कैंसर वजन कम करने के साथ-साथ दिल को हेल्दी रखने में बेहद मददगार साबित होता है
अलसी में एल्फा लिनोनेलिक एसिड काफी मात्रा में पाया जाता है। कई स्टडीज में भी पता चला है कि जिन लोगों को हाइपरटेंशन की शिकायत होती है, उन्हें अपने भोजन में अलसी का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके लगातार इस्तेमाल करने से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है और इसे खाने से ब्लड प्रेशर भी कम हो जाता है

7. इलायची

इलायची में कार्बोहाइड्रेट, फाइबर कैल्शियम पोटेशियम मैग्नीशियम आयरन और फास्फोरस भरपूर मात्रा में होता है ऐसे में हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए कैल्शियम और फास्फोरस और पोटेशियम जैसे खनिज हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मददगार साबित होते हैं
इलायची के नियमित सेवन से ब्लड प्रेशर प्रभावी ढंग से कम होता है। इसे खाने से शरीर को एंटीऑक्सीडेंट मिलते हैं। साथ ही, ब्लड सर्कुलेशन भी सही रहता है।

8. प्याज
प्याज में फ्लेवनॉल और हाई क्वेरसेटिन नाम का पिगमेंट होता है जो कि हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करता है नियमित रूप से प्याज खाने से कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल में रहता है। यह एक एंटी ऑक्सीडेंट फ्लेवेनॉल है जो दिल को बीमारियों से बचाता है। आप इसे कच्चा चबाकर खाने के साथ ले सकते हैं या रस निकालकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं

9. दालचीनी
दालचीनी में मौजूद फाइबर, विटामिन बी, और मैग्नीशियम कोलेस्ट्रोल को कंट्रोल करने में बेहद मददगार साबित होता है, दालचीनी का सेवन न सिर्फ पाचन तंत्र को ठीक है करता है बल्कि शरीर में फैट भी जमा नहीं होने देता है जिसके कारण हाइपरटेंशन की वजह से ब्लड वेसल्स पर अधिक दबाव नहीं पड़ता है, दालचीनी के सेवन से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। दालचीनी में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है यह ब्लड सर्कुलेशन को सुचारू रखता है।

10. नमक कम खाएं
हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को विशेषज्ञों के अनुसार नमक कम मात्रा में लेना चाहिए नमक हाई ब्लड प्रेशर का सीधा संबंध है दिल की बीमारी में ऐसा कहा जाता है कि नमक के ज्यादा इस्तेमाल से दिल की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है
नमक ब्लड प्रेशर बढाने वाला प्रमुख कारण हो सकता है। इसलिए यह बात सबसे महत्वपूर्ण है कि जिनको हाई ब्लड प्रेशर हो उन्हें नामक खाने से बचना चाहिए

11. काली मिर्च
आपकी रसोई में मौजूद कालीमिर्च आपके ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद कर सकती है इसमें कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस और कैरोटीन जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं, यह खून के थक्के को बनने से रोकती है जिससे ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है
जब ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ हो तो आधा ग्लास हल्का गर्म पानी में आधा चम्मच काली मिर्च पाउडर घोलकर पीने से यह ब्लड प्रेशर सही करने का बढिया उपचार है

12. नींबू

नींबू हाइपरटेंशन के लिए सबसे अच्छे घरेलू उपाय में से एक है इससे रक्त वाहिकाएं नरम और लचीली होती है जिससे ब्लड प्रेशर लेवल कम होता है नींबू में विटामिन बी काफी मात्रा में होता है इस वजह से नींबू का नियमित सेवन हार्ट फेलियर के जोखिम को कम करता है साथ ही हाई ट्राइग्लिसराइड्स लेवल को ठीक करता है इसलिए हाइपरटेंशन के मरीजों के लिए इसका इस्तेमाल बेहद कारगर माना जाता है, नींबू का रस आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल भी कम करता है अगर आप हाई ब्लड प्रेशर के मरीज है तो आपके लिए दिन मैं एक से दो बार नींबू का सेवन करना चाहिए हाई हुए ब्लड प्रेशर को जल्दी कंट्रोल करने के लिये आधा गिलास पानी में आधा नींबू डालकर इस्तेमाल करना चाहिए

13. तुलसी

तुलसी में पाया जाने वाला वोलेटाइल तेल ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में भी मददगार साबित होता है, रासायनिक यूजेनाल ब्लड वाली नसों को रोकने और उसे ब्लॉक करने वाले पदार्थों को कम करने में मददगार साबित होता है, अगर ब्लड वाली नसों में ब्लॉकेज नहीं होगा तो ब्लड अच्छी तरह से सरकूलेट होगा, नियमित रूप से सुबह खाली पेट तुलसी की 5 से 6 पत्तियों को आप सादे पानी के साथ ले सकते हैं यह आपके इम्यून पावर को भी बूस्ट करने का काम करेगी इसके अलावा आप तुलसी की चाय का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, ब्लड प्रेशर की परेशानी होने पर तुलसी की पत्तियों का सेवन चाय के रूप में किया जा सकता है चाय तैयार करने के लिए तुलसी की पत्तियों को एक कप पानी में अच्छी तरह से उबाल लें अब इसे छान लें इसके बाद इसमें एक चम्मच शहद और नींबू का रस मिला लीजिए, आपकी चाय तैयार है, इसके अलावा तुलसी में स्ट्रेस हार्मोन को कम करने वाले गुण पाए जाते हैं जो कि ब्लड प्रेशर के रोगियों के लिए काफी जरूरी है

14. अदरक

बुरा कोलेस्ट्रोल धमनियों की दीवारों पर प्लेक यानी कि कैल्शियम युक्त मैल पैदा करता है जिससे रक्त के प्रवाह में अवरोध खड़ा हो जाता है और नतीजा उच्च रक्तचाप के रूप में सामने आता है। अदरक में बहुत हीं ताकतवर एंटीओक्सीडेट्स होते हैं जो कि बुरे कोलेस्ट्रोल को नीचे लाने में काफी असरदार होते हैं। अदरक से आपके रक्तसंचार में भी सुधार होता है, धमनियों के आसपास की मांसपेशियों को भी आराम मिलता है जिससे कि उच्च रक्तचाप नीचे आ जाता है।

15. मेथी

मेथी के बीज में भरपूर मात्रा में कैरोटीन, कॉपर, जिंक, सोडियम, फोलिक एसिड और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, इसी वजह से मेथीदाना का सेवन करने से हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद मिलती है,
1 चम्मच मेथी दाना लें और उसे पानी में करीब 5 मिनट के लिए उबलने दें अब मेथी को छान ले और मेथी दाना को मिक्सी के जार में डालकर पेस्ट बना लें अब इस पेस्ट को खाएं इस पेस्ट को दिन में दो बार खाने से फायदा होगा आधा चम्मच सुबह खाली पेट खाएं और आधा चम्मच शाम को खाना चाहिए इसके अलावा आप रात में भिगोकर मेथी दाना रखें सुबह में उस पानी को भी पिएं और मेथी को भी चबा चबा कर खा सकते हैं यह भी आपके बढे हुए ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में बेजोड़ काम करता है
तीन ग्राम मेथीदाना पावडर सुबह-शाम पानी के साथ लें। इसे पंद्रह दिनों तक लेना चाहिए

इन सभी घरेलू उपाय को करने से पहले आप अपने डॉक्टर या किसी वैद्य हकीम की सलाह जरूर लें और अपने ब्लड प्रेशर को नियमित चेकअप करवाते रहें

उच्च रक्तचाप में होने वाली 10 परेशानियां (लक्षण)

  1. 1. बार बार चक्कर आना
  2. 2. लगातार सर दर्द का रहना
  3. 3. समय समय पर छाती में दर्द होना
  4. 4. सांस लेने में तकलीफ़ होना
  5. 5. आंखों के सामने धुंधलापन या अंधापन
  6. 6. ह्रदय का सामान्य रूप से ना धड़कना
  7. 7.मोटापा वज़न का बढ़ जाना
  8. 8. एडिमा
  9. 9.कमजोरी होना
  10. 10.नाक से खून आना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here